Dr.Sunil Kumar

Homoeopathic physician
Naturopathy,Acupressure,yoga,Herbal & Reiki Consultant For Chronic & Incurable disease

Blog

Rajiv dixit ayurveda episode 3 part 5

Posted by Dr.Sunil Kumar on January 16, 2012 at 9:05 AM

आयुर्वेद की श्रृंखला में हम आज वाग्भट्ट जी के आगे के सूत्रों की चर्चा करेंगे :-

1-ताम्बे के बर्तन में रखे पानी को गुनगुना करके पीने की आवश्यकता नही होती है |

2-जो लोग हमेशा ताम्बे के बर्तन का पानी पीते हैं उन्हें ३ महीने बाद 15-20 दिन के लिए वो पानी पीना छोड़ देना चाहिए ,अन्यथा ताम्बे की अधिकता से होने वाली बीमारियाँ हो सकती हैं |पुनः इसके बाद शुरू कर सकते हैं |

3-दाल एवं दही को एक साथ न खाएं कभी ,अगर खाना ही है तो दही में जीरा ,अजवाइन और काला /सेंधा नमक का तड़का लगाकर लें |

http://youtu.be/pfM3ZGLsc0o

4-जाड़े के 3 महीने -नवंबर ,दिसम्बर ,जनवरी वात रोगों के लिए बहुत घातक होते हैं |इनसे बचने के लिए नीचे दिए हुए उपाय को करें -

1 गिलास दूध +1/2tbs अर्जुन की छाल +गुड या मिश्री का काढ़ा बनाकर पियें (लगातार 3महीने )

इससे कभी भी heart attack ,heart related कोई भी समस्या नहीं होगी |

Categories: None

Post a Comment

Oops!

Oops, you forgot something.

Oops!

The words you entered did not match the given text. Please try again.

Already a member? Sign In

0 Comments

Recent Videos

1413 views - 0 comments
1426 views - 0 comments
1486 views - 0 comments
1706 views - 0 comments